Motorola Kaha Ki Company Hai 2021

आप में से कई यूज़र्स ने मोटो का फ़ोन इस्तेमाल किया होगा और ऐसे में आप जरूर जानने के लिए उत्सुक होंगे, Motorola Kaha Ki Company Hai और इसका मालिक कौन हैं. अगर आप Motorola Company Kaha Ki Hai यह जानने के लिए यहाँ आये हैं, तो आप बिल्कुल राइट जगह पर हैं.

मैं आज आपका मोटो कंपनी से रिलेटेड सभी संदेश खत्म कर दूँगा. मोटोरोला एक ऐसी कंपनी हैं, जिसे लगभग सभी users ने चलाया हैं. यह फ़ोन पहले काफी पॉपुलर हुआ करता था, लेकिन नए – नए कंपनी के आने की वजह से मोटोरोला फ़ोन्स की पॉपुलैरिटी खत्म होते चला गया.

नोकिया से पहले यह कंपनी मोबाइल बनाने में सबसे बड़ी कपनी थी, लेकिन नोकिया के फ़ोन्स आने से मोटोरोला दूसरे स्थान पर हो गयी. वही नोकिया popular होने से अपने स्थान को पहले नंबर पर कर लिया. तो आईये जानते हैं कंपनी ने अपना शुरूआत कैसे किया और मोटोरोला किस देश की कंपनी हैं.

Motorola क्या हैं (What Is Motorola In Hindi)

Motorola क्या हैं (What Is Motorola In Hindi)

मोरोटोला एक मोबाइल बनाने वाली कंपनी हैं. Mobile बनाने के अलावा Computer, Tablet, Mobile Phones, Networking System, Wireless Broadband Network, Smartphones, Cable Television System, RFID System, Television, दो तरफा रेडियो, एकीकृत सर्किट और मोबाइल टेलीफोन अवसंरचना का भी उत्पाद करते हैं.

यह केवल mobile बनाने वाली कंपनी नही, बल्कि यह सभी फील्ड वर्क करते हैं. इतने सारे प्रोडक्ट्स होने के बावजूद भी इंडिया में बहोत कम motorola का product बिकता हैं. अब तो मोटोरोला का phones कम यूज़र्स ही इस्तेमाल करते हैं. लेकिन आये दिन मोटो का फ़ोन मार्केट में लॉन्च होते रहते हैं और जिनको phone पसंद आते हैं, वो जरूर खरीदते हैं.

Motorola Kaha Ki Company Hai

मोटोरोला अमेरिका की कंपनी हैं और इसका मुख्यालय शाउमबर्गइलिनोइस में स्थित हैं. मोटोरोला एक अमेरिकी कंपनी हैं. इस कंपनी की स्थापना 25 सितंबर, 1928 को हुआ था. मोटोरोला कंपनी में 2019 के हिसाब से कर्मचारियों की संख्या 53,000 से भी ज्यादा हैं. अमेरिका की कंपनी होने की वजह से लोगो का इसपर काफी ट्रस्ट था और इसी वजह से कंपनी mobile बनाने में सबसे बड़ी कंपनी रह चुके हैं.

Motorola का मालिक कौन हैं

Motorola का मालिक कौन हैं

मोटोरोला का मालिक पॉल और जोसेफ गैल्विन हैं और इन्होंने ने मिलकर मोटोरोला कंपनी की स्थापना 25 September साल 1928 को की थी. इसके अलावा पॉल को कार रेडियो के लिए भी जाना जाता हैं. पॉल और जोसेफ गैल्विन के अलावा कंपनी के 4 और प्रमुख व्यक्ति हैं.

  1. ब्रायन लोपेज़ (CEO & Director)
  2. गीनो बोनानोटे (CFO)
  3. शमिक मुखर्जी (CMO)
  4. महेश सप्तऋषि (CTO)

ये सभी व्यक्ति भी मोटोरोला कंपनी के प्रमुख लोगों में आते हैं. पॉल का जन्म साल 1895, 29 june को हार्वर्ड, इलिनोइस में हुआ था. इसके अलावा पॉल का एक बेटा (Son) भी हैं, जिसका नाम बॉब गैल्विन हैं. बॉब गैल्विन का जन्म 9 October, 1922 को हुआ था और ये मोटोरोला कंपनी के CEO भी थे.

मोटोरोला कंपनी का शुरुआत कैसे हुआ (Motorola Company History)

मोटोरोला कंपनी की शुरुआत शिकागो, इलिनोइस में मैन्युफैक्चरिंग कॉर्पोरेशन के रूप में हुआ था. मोटोरोला कंपनी को पहले मैन्युफैक्चरिंग कॉर्पोरेशन के नाम से जाना जाता था. 1928 में कंपनी ने बैटरी एलमिनेटर को एंट्री किया. बैटरी एलमिनेटर का शुरूआत एक किराए के मकान में हुआ था और दुकान काफी छोटा था.

बैटरी एलमिनेटर को रेडियो के लिए बनाया गया था, लेकिन लोगो ने इसका इस्तेमाल घर के बिजली के लिए करना शुरू कर दिया. इसके अलावा इसमें केवल 5 कर्मचारी थे, लेकिन अब 50 हज़ार से भी ज्यादा कर्मचारी कंपनी के लिए काम करते हैं. इसके बाद यह बैटरी एलमिनेटर ज्यादा समय तक टिक नही पाया.

उसके बाद साल 1930 में मोटोरोला ने कार रेडियो बनाया था, जो बहोत फेमस हुआ था. इसके बाद कंपनी ने तरक्की करना शुरू कर दिया था. इस रेडियो का नाम Motorola Radio नाम रखा गया था, लेकिन यह नाम इतना ज्यादा पॉपुलर हुआ की, गैल्विन ने कंपनी का नाम ही चेंज करके मोटोरोला रख दिया. उसके बाद कंपनी अपने मोटोरोला नाम का ट्रेडमार्क रजिस्टर कर लिया.

रेडियो सफलता के बाद कंपनी के पास टेक्नोलॉजी में अच्छा एक्सपीरियंस हो चुका था. फिर साल 1940 में कंपनी ने वॉकी – टॉकी का इंवेंट किया, जो अमेरिका के सेना के लिए उपयोग किया गया था. सेकंड वर्ल्ड वॉर के समय ही कंपनी एक और हैंड हेल्ड FM Radio का invent किया.

यह दोनों उपकरण का इस्तेमाल सेकंड वर्ल्ड वॉर के लिए america सेना ने किया था. लड़ाई के समय मोटोरोला कंपनी अमेरिका की 94 प्रमुख कंपनियों में से एक कंपनी थी. उसके बाद मोटो ने 1958 में NASA को अपना इक्यूपमेंट प्रोवाइड करने लगा. फिर 1969 में मोटोरोला ट्रांसिवर से ही earth पर मैसेज भेजा गया था.

फिर 1960 में अपना पहला 19 इंच का पोर्टेबल टेलीविजन लॉन्च किया. उस समय कंपनी के पास 14,000 कर्मचारी हो चुके थे और इलिनोइस में 5,823 कर्मचारी स्थित थे. उसके बाद 1973 में कंपनी ने अपना पहला सेल फ़ोन डायनाटेक 8000X को लॉन्च किया था.

1984 में इस फ़ोन को सेल फ़ोन के रूप में FCC (फेडरल कम्यूनिकेशन कमीशन) के द्वरा वर्ल्ड का पहला सेल फ़ोन announce किया गया था. फिर मोटोरोला ने 1996 में क्लैमशेल डिजाइन का phone launch करना शुरू कर दिया और 2000 आते – आते यह कंपनी वर्ल्ड का नंबर 1 मोबाइल कंपनी बन गई.

फिर 2004 में मोटोरोला रेजर वी3 को launch किया, जिसमें डिजाइन काफी बेहतरीन था. इस फ़ोन में company ने क्लैमशेल डिजाइन का यूज़ किया था. फिर साल 2006 में कंपनी ने मोटो मिंग touch को launch किया, लेकिन वो सक्सेस नही हुआ.

इसके अलावा इसमें hand righting recognition का सपोर्ट मौजूद था. इसके बावजूद भी कंपनी को 2007 से 2009 तक 4.3 billion का lose हुआ था. फिर कंपनी को 4 may 2011 को मोटोरोला दो भागो में बांट दिया.

एक का नाम मोटोरोला मोबिलिटी और दूसरे का नाम मोटोरोला सोल्यूशंस नाम रख दिया गया. फिर 22 may 2012 को मोटोरोला मोबिलिटी को गूगल ने $12.5 billion में खरीद लिया.

उसके बाद साल 2014, 29 जनवरी को मोटोरोला मोबिलिटी कंपनी को गूगल से लेनोवो कंपनी ने खरीद लिया. चीन की कंपनी लेनोवो ने मोटोरोला को $2.19 billion में खरीदा था. अब मोटोरोला कंपनी लेनोवो की कंपनी बन चुकी हैं.

निष्कर्ष

निष्कर्ष यही निकलकर आता हैं, मोटोरोला एक अमेरिका देश की कंपनी हैं और इसे लेनोवो ने गूगल 2910 करोड़ अमेरिकी डॉलर मे खरीदा था. मुझे उम्मीद हैं, अब आज गए होंगे, Motorola Kaha Ki Company Hai. मोटोरोला एक बेहद ही बेहतरीन स्मार्टफोन हैं और इसमें किसी भी प्रकार थर्ड पार्टी सॉफ्टवेयर का use नही किया जाता हैं.

जिसके कारण यह फ़ोन और भी ज्यादा स्मूथ experience provide करता हैं. यह फ़ोन यूजर इंटरफ़ेस के मामले दूरसे फ़ोन बहोत ज्यादा neat & clean हैं. कुछ लोग neat & क्लीन UI होने की वजह से इस फ़ोन को परचेस करना पसंद करते हैं.

अगर आपको एक सिंपल ui वाला mobile चाहिए, तो आप मोटो का मोबाइल ले सकते हैं. अभी भी मोटोरोला कंपनी मार्केट में बना हुआ हैं. आपको क्या लगता हैं, क्या motorola पहले जैसी company बन पायेगी. नीचे कमेंट करके बताये. जिनको नही पता Moto Kaha Ki Company Hai. आप उन तक इस आर्टिकल को शेयर जरूर करे.

Leave a Comment