Nokia Kaha Ki Company Hai 2021

क्या आप जानते हैं, Nokia Kaha Ki Company Hai. अगर नही जानते तो, आज के पोस्ट में आप जान जाएंगे नोकिया कहाँ, किस देश की कंपनी हैं. आज के आर्टिकल में नोकिया कंपनी से रिलेटेड आपको पूरी जानकारी मिल जायेगी. आप में से कई यूज़र्स का पहला फ़ोन नोकिया का ही होगा. क्योंकि आज से लगभग 10 साल पहले नोकिया मोबाइल का ही बोल-बाला था.

भले आज के समय में नोकिया मोबाइल का इस्तेमाल बहोत कम लोग करते हैं, लेकिन अधिकतर लोगो ने पहले नोकिया फ़ोन इस्तेमाल किया हैं. भले ही वो कीपैड मोबाइल हो या नोकिया का स्मार्टफोन. नोकिया कंपनी मोबाइल में लुमिया सीरीज बेहद प्रीमियम स्मार्टफोन था और इसका ऐड चेन्नई एक्सप्रेस मूवी में भी देखने को मिला था.

नोकिया स्मार्टफोन में विंडोज ऑपरेटिंग सिस्टम का ज्यादा उपयोग हुआ करता था और इसी के चलते आज नोकिया कंपनी की पॉपुलैरिटी बहोत कम हो गया हैं. ऐसे में जो नोकिया के fans हैं, वो जानने के लिए उत्सुक रहते हैं नोकिया कंपनी कहाँ की हैं और इसका मालिक कौन हैं.

Nokia Kaha Ki Company Hai | Nokia Kis Desh Ki Company Hai

Nokia Kaha Ki Company Hai | Nokia Kis Desh Ki Company Hai

नोकिया कंपनी फिनलैंड देश की कंपनी हैं. नोकिया का मुख्यालय फिनलैंड, एस्प्रो में स्थापित हैं. इसके साथ फिनलैंड की राजधानी हेलसिंकी हैं और हेलसिंकी शहर का पड़ोसी शहर कैलानिएमी (Kailaniemi) हैं. नोकिया कंपनी वायरलेस, वायर्ड और दूरसंचार के लिए मुख्य काम करते हैं.

इसके अलावा साल 2018 के आंकड़े के हिसाब से, तो नोकिया कंपनी में 103,000 से अधिक कर्मचारी नौकरी करते हैं. इतना ही नही, नोकिया कंपनी में ये कर्मचारी 100 से ज्यादा देश में काम करते हैं और नोकिया कंपनी 130 अगल – अगल देश में फैली हुई हैं. नोकिया कंपनी पूरे देश में अपने प्रोडक्ट को बेचती हैं और यह कंपनी दुनिया का सबसे बड़ा मोबाइल निर्माता कंपनी भी है.

Nokia का मालिक कौन हैं

Nokia का मालिक कौन हैं

Nokia Company का मालिक Fredrik Idestam, Leo Mechelin और Eduard Polón हैं. मालिक के अलावा Sari Baldauf (Chairman) और Pekka Lundmark (President &​ CEO) नोकिया कंपनी के प्रमुख व्यक्ति हैं.

  1. Fredrik Idestam का जन्म 28 अक्टूबर 1838 को हुआ था और इनको नोकिया कंपनी का संस्थापक माना जाता हैं.
  2. Leo Mechelin का जन्म 24 नवंबर 1839 को हुआ था. इसके अलावा Leo Mechelin ने लिबरल पार्टी ऑफ़ फ़िनलैंड का स्थापना भी किया था.
  3. Eduard Polón का जन्म 16 जून 1861 को हुआ था और इन्होंने ही कंपनी में रबर का उद्योग शुरू किया था.
  1. Sari Baldauf का जन्म कोटका, फिनलैंड देश में 10 अगस्त 1955 को हुआ था और इन्होंने ने हेलसिंकी स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स से बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन के टीचर के रूप में ग्रेजुएट किया हैं.
  2. Pekka Lundmark का जन्म 9 दिसंबर 1963 को हुआ था और ये नोकिया कंपनी के प्रेजिडेंट और सीईओ 1990 में बने थे. इसके अलावा Pekka Lundmark ने साल 2000 में नोकिया कंपनी को छोड़ दिया.

3 नोकिया कंपनी के फाउंडर हैं और 2 कंपनी के मुख्य व्यक्ति हैं. नोकिया कंपनी Fortune Global 500 के अनुसार साल 2009 में 5 वें पोजीशन पर थी और नोकिया 415 वीं सबसे बड़ा कंपनी हैं.

Nokia मोबाइल की खासियत

नोकिया मोबाइल की सबसे बड़ी खासियत इसकी थीम और गेम हैं. एक कीपैड मोबाइल होने के बावजूद भी आप मोबाइल में गेम खेल सकते हैं. इसके अलावा तरह – तरह के थीम को अप्लाई कर सकते हैं. थीम को डाउनलोड करके भी इस्तेमाल कर सकते हैं.

कुछ कीपैड मोबाइल में डिफ़ॉल्ट गेम को ही खेल सकते हैं, लेकिन नोकिया कीपैड मोबाइल में गेम को डाउनलोड करके खेल सकते हैं. नोकिया कीपैड मोबाइल में थीम और गेम को बड़े आसानी से यूज़ कर सकते हैं और इस कंपनी की ये काफी यूनिक खासियत हैं. हालांकि थीम और गेम को अन्य मोबाइल में इस्तेमाल कर सकते हैं, लेकिन नोकिया मोबाइल में मेमोरी में भी गेम डाउनलोड करके खेल सकते हैं.

Nokia कंपनी का शुरुआत कैसे हुआ (Nokia Company History)

नोकिया कंपनी का शुरुआत छोटे काम से हुआ था और ये आगे चलकर काफी बड़ी कंपनी बन गई. पहले नोकिया कंपनी को शुरू करने के लिए फ्रेड्रिक इडेस्टम ने एक लुगदी मिल की स्थापना की थी. फ्रेड्रिक इडेस्टम फिनिश-स्वेड माइनिंग इंजीनियर हैं और इन्होंने ही कंपनी की शुरुआत 1865 में की थी. 1865 में लुगदी मिल की स्थापना फिनलैंड के टाम्परे शहर में हुआ था.

1868 में एक पल्प मिल शुरी किया गया था, जिसकी स्थापना नोकिया के पड़ोसी शहर में हुआ था. इस पल्प मिल में जलविद्युत संसाधन मौजूद थे. Idestam ने लियो मेकेलिन के साथ मिलकर 1871 में Nokia AB नाम से एक कंपनी बनाई और लियो मेकेलिन Idestam के दोस्त थे. 1869 में मेकेलिन को कंपनी का सीईओ बना दिया गया और मेकेलिन ने ही बिजली उत्पादन का विस्तार 1902 में किया था.

लेकिन इदस्टाम ने इसका विरोध भी किया था. एडुअर्ड पोलोन द्वारा ने 1904 में एक रबर का बिज़नेस नोकिया शहर के पास एक फैक्ट्री खोला. पोलोन के नेतृत्व में 1922 में Nokia AB ने रबर वर्क्स और केबल फैक्ट्री के साथ साझेदारी में एंट्री किया. नोकिया कंपनी साल 1930 में विद्युत क्षेत्र का फायदा लेने के लिए चला गया और रबर की कंपनी इन्होंने जो खोला था.

वो काफी तेजी से बढ़ता चला गया और साथ में केबल कंपनी के साथ भी ऐसा ही होने लगा. अब नोकिया 1967 में तीन कंपनियां बन चुकी थी, जिसका नाम नोकिया, कापलिटहादास, और फिनिश रबर वर्क्स हैं. इन तीन कंपनियों के नाम से मिलकर एक और न्यू कंपनी का गठन हुआ, जिसका नाम नोकिया कॉर्पोरेशन रखा गया. अब नोकिया कंपनी चार कंपनी बन चुकी हैं.

नोकिया वानिकी, केबल, रबर और इलेक्ट्रॉनिक्स छेत्र में प्रवेश कर चुकी थी. इसके बाद नोकिया कंपनी ने साल 1970 में नेटवर्किंग और रेडियो उद्योग में एंट्री किया और फ़िनलैंड के सैन्य रक्षा हेतु टूल्स बनाना शुरू कर दिया. नोकिया ने 1960 में सोवियत संघ से व्यापार के लिए समझौते किये और इसके बाद नोकिया ने सोवियत संघ बाजार में विस्तार करना शुरू कर दिया.

1970 में प्रमुख बाजार सोवियत संघ बन गया. कारी कैरैमो 1977 में नोकिया कंपनी के सीईओ बन गए. कारी कैरैमो के नेतृत्व में ही कई कंपनियों को अधिग्रहण किया. नोकिया कंपनी 1984 में टेलीविजन छेत्र में भी प्रवेश कर चुकी थी और टेलीविजन के निर्माता सलोरा थे. इसके बाद नोकिया कंपनी ने 1985 में स्वीडिश इलेक्ट्रॉनिक्स और कंप्यूटर में प्रवेश किया और इनके निर्माता लक्सर एबी हैं.

1987 में फ्रेंच टेलीविजन निर्माता ओशिनिक को प्राप्त किया. अब तक नोकिया इन सभी कंपनी निर्माता को अपने अपने कंपनी में ला चुकी थी. इसी चलते नोकिया कंपनी यूरोप का सबसे बड़ा तीसरा टेलीविजन निर्माता कंपनी बन गया. कापेलितहादास ने 1987 में हेलसिंकी में केबल की फैक्ट्री को क्लोज कर दिया.

नोकिया कंपनी ने अपना पहला पोर्टेबल मोबाइल फोन Mobira Cityman 900 के नाम से बनाया था. सीमेंस कंपनी ने नोकिया के साथ 1980 में GSM नेटवर्क बनाया और दुनिया का फर्स्ट GSM कॉल हैरी होलकेरी द्वारा 1 जुलाई 1991 किया गया था. हैरी होलकेरी उस समय फिनलैंड के प्रधानमंत्री थे.

नोकिया कंपनी ने नवंबर 1992 में Nokia 1011 को लॉन्च किया और इसमें GSM नेटवर्क का इस्तेमाल किया जा सकता था. इसके बाद नोकिया अक्टूबर 1998 में सबसे ज्यादा बिकने वाला मोबाइल फ़ोन ब्रांड बन गया और मोटोरोला कंपनी को भी पीछे छोड़ दिया. इसके साथ ही नोकिया ने 100 मिलियन मोबाइल का निर्माण दिसंबर में किया.

2001 में नोकिया ने नोकिया 9210 कम्युनिकेटर लॉन्च किया, जो सिम्बियन ऑपरेटिंग सिस्टम पर चलता हैं और इसी साल नोकिया ने सिम्बियन सीरीज़ 60 प्लेटफ़ॉर्म को बनाया. यही प्लेटफार्म नोकिया के कैमरा फ़ोन नोकिया 7650 में देखने को मिले थे. बाद में नोकिया कंपनी और सिम्बियन प्लेटफार्म स्मार्टफोन के मामले में सबसे बड़े हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर निर्माता कंपनी बन गए.

नोकिया का सबसे ज्यादा सक्सेस  नोकिया N95 फ़ोन था, जो 2006 में लॉन्च हुआ था. अब नोकिया के पास सिम्बियन ऑपरेटिंग सिस्टम नही था, जिसके चलते नोकिया ने 11 फरवरी 2011 को माइक्रोसॉफ्ट के साथ साझेदारी की और बताया नोकिया के फ़ोन्स अब विंडोज फोन 7 के साथ आयेगा.

जब से नोकिया के स्मार्टफोन्स विंडोज ऑपरेटिंग सिस्टम आना शुरू हुआ, तब से नोकिया कंपनी में भारी गिरावट होना शुरू हो गया. इसी के चलते Microsoft ने HMD Global कंपनी को 18 मई 2016 को बेच दिया. बेचने के बाद अब नोकिया के फ़ोन्स एंड्रॉइड प्लेटफार्म के साथ आते हैं. जिसे नोकिया के fans लेना पसंद भी करते हैं. अब नोकिया मार्केट में एंड्रॉइड ऑपरेटिंग सिस्टम के साथ अपना पकड़ बना रहा हैं.

Conclusion

मैं उम्मीद करता हूँ. आज की दी गई आर्टिकल Nokia Kaha Ki Company Hai, इससे आपको जानकारी पाने में मदद मिला होगा. नोकिया कंपनी के साथ उप & डाउन काफी हुआ हैं, जिसके चलते आज के वर्तमान समय में नोकिया पहले जैसा ब्रांड नही रहा. लेकिन नोकिया कीपैड मोबाइल के समय में एक किंग कंपनी थी.

नोकिया ने अपने आप को वर्तमान के समय जैसा कंपनी के साथ प्रवर्तित नही किया. जिसके कारण नोकिया को अपना कंपनी बेचना पड़ा. हालांकि अब नोकिया सही रास्ते पर लगा हुआ हैं. सो सकता हैं, नोकिया पहले जैसा ब्रांड बन जाए. जो नोकिया के fans नही जानते नोकिया कंपनी कहाँ की हैं और इस कंपनी का मालिक कौन हैं. आप उन तक इस आर्टिकल को शेयर जरूर करे.

Leave a Comment